Friday, May 20, 2022
HomeLifeAdvanced Student Life Essay in Hindi| विद्यार्थी जीवन का महत्व - हिन्दी...

Advanced Student Life Essay in Hindi| विद्यार्थी जीवन का महत्व – हिन्दी में जाने 2022

Student Life is Golden time of life, सफल जीवन की दिशा धारा, विद्यार्थी जीवन जीवन का स्वर्ण काल है, Student Life Essay, Student Life Essay in Hindi, विद्यार्थी जीवन का महत्व, विद्यार्थी जीवन का महत्व निबंध


Student life essay in hindi | विद्यार्थी जीवन का महत्व निबंध 

विद्यार्थी जीवन जीवन का वह समय होता है जब उमंगो आकांक्षाओं से भरपूर मानवीय व्यक्तित्व कुछ ना कुछ ग्रहण करने को लालायित रहता है नई कल्पनाएं अंकुर आती है नई आशाएं कोपलो की भांति उग आती है नई उपलब्धियों की कलियां फूल बनकर खिल खिलाती है 

दिवास्वपनो में डूबे किंतु शक्ति एवं संभावनाओं से भरपूर इस जीवन पर अभिभावकों का ही नहीं पूरे परिवार एवं समाज का ध्यान केंद्रित रहता है 

सीखने कुछ जानने कुछ बनने का सतत सार्थक प्रयास इसी समय में होता है प्रत्येक छात्र को यह अनुभव करना चाहिए कि वह ऐसी अवधि से होकर गुजर रहा है जो उसके भाग्य और भविष्य निर्माण करने की निर्णायक भूमिका अदा करेगी 

Student Life of Good Student

इन्हीं दिनों श्रेष्ठ विचार सद्भावनाओं एवं सत्यप्रवृतियों का अभ्यास किया जाता रहे तो उसका प्रभाव जीवन भर बना रहता है और सुख शांति की संभावना है साकार होती है 

इन्हीं दिनों मित्रों का आकर्षण अपनी चरम सीमा पर रहता है अच्छे साथी मिले तो विकास एवं प्रसन्नता की वृद्धि में सहायता ही मिलती है हर समझदार छात्र का कर्तव्य है कि मित्रता से हजार बार सोचे सचरित्र मित्रो,  श्रेष्ठ पुस्तकों और शक्तिमान परमात्मा का ही संग करें 

सद विचारों की नोटबुक बनाएं जब भी कोई अच्छी बात पढ़े या सुने तो नोट करें समय समय पर दोहराये, आदर्श व्यक्तियों का महापुरुषों का ध्यान व उनके चरित्र का चितंन एव मनन करें 

स्वास्थ्य संरक्षण के लिए यही समय सबसे उपयुक्त होता है प्राकृतिक नियम आहार-विहार सोने जागने का ध्यान रखा जाए तो तंदुरुस्ती ऐसी बन जाएगी जो जीवन भर साथ दे 

इन्हें भी पढ़े – Hema Malini Biography in Hindi 2021

Student Life of Bad Student

अधिकतर अकुशल छात्र ही अनुशासन हीन हुआ करते हैं पढ़ने लिखने में उनका मन नहीं लगता अच्छे विद्यार्थी के लक्षणों से रहित होने से गुरुजनों के प्रति श्रद्धा नहीं होती 

श्रेणी, श्रेय अथवा सराहना के योग्य नहीं होते, आगामी जीवन के ऊपर से उतरदायित्व से अनभिज्ञ रहते हैं जीवन का कोई विशेष लक्ष्य नहीं होता इसी प्रकार की मानसिक शून्यताओं से जन्मी हीन भावना को दबाने के लिए अकुशल एवं अयोग्य छात्र अनुशासनहीनता को शान समझने लगते हैं 

जिन विद्यार्थियों लक्ष्ण पढ़ने  के होते हैं वे पढ़ाई के सिवाय बेकार की बातों में नहीं पड़ते 

आत्मनिर्भरता दूसरों की सहायता, धर्म का सदुपयोग, समय का सुनियोजन एवं सदुपयोग मानसिक संतुलन सत्साहित्य का स्वाध्याय, कठिन परिश्रम, दृढ़ संकल्प, स्वच्छता, सुव्यस्था, सुसंगति, सकारात्मक विचार, स्वस्थ जीवन, शालीनता, सज्जनता, हंसमुख, शिष्ठ एवं विनम्र व्यवहार युवावस्था को अलंकृत करने वाले सद्गुण है

अर्थ उपार्जन का अभ्यास नवयुवक आदि करने लगे तो उनके भीतर ऐसी विशेषताएं उगती चली जाएगी, जिनके द्वारा उनका भविष्य स्वर्णिम और शानदार बन जाएगा। 

Student Life Future Target जीवन लक्ष्य का निर्धारण 

जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए प्रत्येक व्यक्ति का अपना एक लक्ष्य एक उद्देश्य होना आवश्यक है सबसे पहले अपने जीवन में लक्ष्य का, उद्देश्य का निर्धारण किया जाए जीवन में क्या बनना चाहते हैं क्या करना चाहते हैं फिर इस लक्ष्य को पाने के लिए  जुट जाना चाहिए मन में यह पक्का विश्वास लेकर चले कि सफलता मेरा जन्म सिद्ध अधिकार है निरंतर लक्ष्य की प्राप्ति की धुन सवार रहे,

 उम्र के इस स्वर्णिम दौर को व्यर्थ न जाने दें अपने लक्ष्य को महान सामाजिक उद्देश्य से जुड़े लक्ष्य सबके लिए कल्याणकारी हो यह ध्यान रहे कि तमाम विवादों के बावजूद मंजिल पाना है समय निकल जाने पर पश्चाताप के सिवाय कुछ नहीं बचता 

जब मनुष्य की सारी शक्तियां विचारों की समय की शरीर की साधन की एक ही लक्ष्य की ओर ध्यान हो तो फिर सफलता प्राप्ति में संदेह नहीं रहता अपनी शक्ति को अवश्य पहचानना चाहिए अपने लक्ष्य को चुनौती के रूप में स्वीकार करना चाहिए संकल्प करें कि लक्ष्य को अवश्य प्राप्त करूंगा 

स्मरण रखा जाए  आपका कोई भी मनोरथ उद्देश्य क्यों ना हो आपकी अपनी शक्ति द्वारा ही पूरा किया जा सकता है इधर उधर देखने से कुछ नहीं होगा दूसरों पर भरोसा किया तो निराशा ही हाथ लगेगी 

Student Life Important Step

अपने उद्देश्य को प्राप्त करने के लिए अपने पांव पर खड़े होने का प्रयास किए करें प्रत्येक व्यक्ति के भीतर एक ऐसा शक्ति केंद्र मौजूद होता है जो उसे इच्छा अनुसार ऊंचे स्थान पर पहुंचा सकता है प्रत्येक व्यक्ति में आत्मा को की अनंत और अपार शक्ति विद्यमान होती है 

अपनी शक्ति के परिवार का समुचित प्रयोग करना ही पुरुषार्थ है प्रत्येक क्षेत्र में शक्ति की प्राप्ति एवं निर्बलता का अभाव मानवी उत्थान के लिए आवश्यक है अपने उद्देश्य को प्राप्त करना लक्ष्य है तो अपने शक्ति को बढ़ाइए अपने अंदर लगाकर मान्यता और आत्मविश्वास पैदा किया जाए हमेशा अनुभव करते रहेगी मैंने अपने सिर पर लक्ष्य प्राप्ति का कफन बांध लिया है और उसके मार्ग में आने वाली हर बिग नवा बाधा का सामना करने के लिए अपनी कमर कस ली है

 संसार की कोई भी शक्ति मुझे लक्ष्य प्राप्ति से रोक नहीं सकता ऐसे देश संकल्प के साथ आगे बढ़ने पर आप पाएंगे कि कदम कदम पर सफलता परछाई की तरह आपके साथ हैं जब आप अपनी सहायता खुद करेंगे तो इस बार भी आपकी सहायता करने के लिए तैयार रहेंगे यह पथ हर व्यक्ति के लिए खुला हुआ है जो किसी की प्रतीक्षा न कर स्वयं पुरुषार्थ में संलग्न होते हैं वे अपने संकल्प शक्ति से लक्ष्य को प्राप्त करते रहते हैं

इन्हें भी पढ़े – Home Credit se Loan Kaise Le

Student Life Important Decision सफलता की जननी संकल्प शक्ति

 यह मेरा संकल्प है इसका अर्थ है कि अब मैं इस कार्य में प्राण मन और समग्र शक्ति के साथ संलग्न हो रहा हूं इस प्रकार की विचार बिगड़ता ही संकल्प की जननी है संकल्प तब का क्रिया शक्ति का विधायक है इसी में अनेक सिद्धियां और वरदान समाहित है

अपने को और समर्थ और सत्य एवं और असहाय नहीं समझना चाहिए साधनों के अभाव में किस प्रकार आगे बढ़ सकेंगे इसे कमजोर विचारों का पता कीजिए परित्याग कीजिए स्मरण शक्ति का स्रोत साधनों उसमें नहीं संकल्प में है यदि उन्नति करने की आगे बढ़ने की इच्छाएं तीव्र हो तो आपको जिन साधनों का आज अभाव दिखलाई पड़ता है कल वह निश्चय ही दूर दिखाई देंगे दृढ़ संकल्प से स्वल्प साधनों में भी मनुष्य अधिकतम विकास कर सकता है और मस्ती का जीवन बिता सकता है 

आप में भी और साधारण गुप्त शक्तियों का मन शरीर आत्मा की असंग शक्तियों का भंडार छिपा हुआ है खेद है कि आप अपने को साधारण प्राणी मानते हैं वास्तविक कमजोरी यह है कि अभी हमें अपने ऊपर विश्वास नहीं है ईश्वरीय शक्तियां विपुल ताकतों मानसिक शारीरिक आत्मिक संपदा ओं का जो अंशुल में है वही वास्तव में आप में भी मौजूद है 

याद रखिए कि सतत परिश्रम और एक लक्ष्य से ही भाग्य बनता है जनता की सतत इच्छा साधना से देश उठता है इच्छा प्रबल शक्ति है अपना मार्ग खोज लेती है 

कभी भी विकट परिस्थिति से हार नहीं मानना चाहिए बल्कि इतनी कठिन परिस्थिति हो उतनी ही अधिक ध्यान और उत्साह अंदर से प्रकट करें तरह-तरह की कोशिश करें कई कई जगह काम करें कहीं ना कहीं उसे सफलता प्राप्त हो जाएगी 

संकल्प की मजबूती धैर्य से आदमी जीता है सफलता का मूल मनुष्य की इच्छा शक्ति में संगीत रहता है मानवी शक्तियों में उसकी इच्छा शक्ति परवल और प्रमुख होती है 

मनुष्य की वास्तविक शक्ति उसकी इच्छा शक्ति है क्योंकि वही जीवन का लक्ष्य कर्म की विधायिका तथा प्रेरिका होती है 

जहां इच्छा वहां कर्मों का होना अनिवार्य है जहां इच्छा नहीं वहां कर्म नहीं सभी इच्छाएं संकल्प का सीमा स्पर्श नहीं कर पाती उनमें पूर्ति का बल नहीं होता अतः वे निर्जीव मानी जाती है किंतु बिछाए बुद्धि विचार वह देश भावना द्वारा अधिकृत हो जाती है तो संकल्प बन जाती है जय सिद्धि के लिए इच्छा की अपेक्षा संकल्प में अधिक शक्ति होती है

दोस्तो इस पोस्ट में Student Life पर निबंध आपको अच्छी लगी होगी, विद्यार्धी जीवन पर निबंध को पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

  • अन्य पढ़े –
Manoj Verma
Manoj Vermahttp://hindimejane.net
Blogger, IT Professional, Website Designer, Website Developer
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments