PMMSY प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना 2023 Detailed

Rate this post

PMMSY प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना का विजन, लक्ष्य, उद्देश्य, कार्यान्वयन, प्रगति, विश्लेषण, आवश्यक कागजात, आवेदन की प्रक्रिया से संबंधित पूर्ण जानकारी हेतु इस पोस्ट को अंत तक पढ़ें,

PMMSY: मत्स्यपालन क्षेत्र की असीम संभावनाओं को देखते हुए 20 मई 2020 को प्रधानमंत्री की अध्यक्षता वाले केन्द्रीय मंत्रिमंडल नें प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना PMMSY को स्वीकृति प्रदान कर दी।

PMMSY योजना का विजन

पारिस्थितिकी रुप से स्वस्थ, आर्थिक रुप से व्यावहारिक और सामाजिक रुप से समावेशी मात्स्यिकी क्षेत्र एक ऐसा क्षेत्र है, जो संधारणीय और दायित्वपूर्ण तरीके से देश के मछुऔरों, मत्स्य किसानों और अन्य हितधारकों की आर्थिक समृद्धि तथा उनकी खुशहाली और देश के खाद्य और पोषण सुरक्षा में योगदान करती है।

PMMSY योजना का लक्ष्य

  • योजना का लक्ष्य है कि मत्स्य उत्पादन को मौजूदा वर्ष (2018-19) 137.58 लाख मीट्रिक टन से बढ़ाकर वर्ष 2024-25 तक 220 लाख मीट्रिक टन कर दिया जाय
  • मत्स्य उत्पादन में लगभग 9 प्रतिशत की औसत वार्षिक वृद्धि दर बनाए रखना
  • कृषि GVA में मत्स्य क्षेत्र की GVA के योगदान को 7.28% प्रतिशत (2018-19) से बढ़ाकर वर्ष 2024-25 तक 9% प्रतिशत करना
  • मत्स्य उत्पादों के निर्यात से होने वाली मौजूदा 46589 करोड़ रुपये (2018-19) आय को वर्ष 2024-25 तक लगभग 1 लाख करोड़ रुपये तक पहुंचाना।
  • मौजूदा समय में मत्स्यपालन क्षेत्र की उत्पादकता 3 टन प्रति हेक्टेयर है। इसे वर्ष 2024-25 तक बढ़ाकर 5 टन प्रति हेक्टेयर करना है
  • उत्पादन के दौरान तथा उसके पश्चात (Post Harvest) 20-25 प्रतिशत के क्षय को कम कर वर्ष 2024-25 तक 10 प्रतिशत के स्तर पर लाना,
  • घरेलू मत्स्य उपभोग को वर्तमान के 5-6 किग्रा. प्रति व्यक्ति से बढ़ाकर वर्ष 2024-25 तक 12 कि.ग्रा. प्रति व्यक्ति करना
  • वर्ष 2024-25 तक 55 लाख प्रत्यक्ष तथा अप्रत्यक्ष रोजगार मत्स्य क्षेत्र में सृजित करना।

PMMSY योजना का उद्देश्य

  • देश की मत्स्यपालन क्षमता का समतापूर्ण , न्यायसंगत, स्थायी, उतरदायित्वपूर्ण एवं समावेशीपूर्ण तरीके से दोहन करना
  • जल एवं भूमि के विस्तार, गहनता, विविधीकरण तथा लाभकारी उपयोग के माध्यम से मत्स्य उत्पादन एवं उत्पादकता को बढ़ाना,
  • उत्पादन के पश्चात प्रबंधन तथा मत्स्य उत्पादों की गुणवत्ता में सुधार की आधुनिक एवं वैश्विक मानकों के अनुरुप स्वीकृत व्यवस्था को अपनाया जाना,
  • उत्पादन से लेकर उपभोक्ता तक विस्तृत मूल्य ऋृखंला का आधुनिकीकरण करना तथा मजबूत बनाया जा सके,
  • मछुऔरों एवं मत्स्य किसानों की आय की दोगुना करना तथा रोजगार सृजन किया जाय,
  • कृषि क्षेत्र के सकल मूल्यवर्धन तथा निर्यात में वृद्धि किया जाय,
  • सशक्त मत्स्य प्रबंधन एवं नियामक ढांचा तैयार करना,
  • मछुआरों और मत्स्य उत्पादक किसानों को शारीरिक, भौतिक और आर्थिक सुरक्षा प्रदान किया जा सके,

PMMSY योजना का कार्यान्वयन

  • PMMSY के कार्यान्वयन के दो प्रमुख घटक होगें-

(क) केन्द्रीय क्षेत्र की योजना

(ख) केंद्र प्रायोजित योजना

  • योजना में निवेश हेतु कुल 20,050 करोड़ रुपये अनुमोदित है, जिसमें 9,407 करोड़ रुपये का केंद्रीय हिस्सा, 4,880 करोड़ रुपये का राज्य का हिस्सा और 5,763 करोड़ रुपये लाभार्थियों का हिस्सा सम्मिलित है
  • केन्द्रीय क्षेत्र की योजना के तहत 1,720 करोड़ रुपये का परिव्यय केन्द्र सरकार द्वारा किया जायेगा। इसके तहत संपूर्ण परियोजना खर्च केन्द्र सरकार वहन करेगी।

PMMSY योजना का प्रगति

  • 25 जून 2021 तक की अद्यतन स्थिति के अनुसार, यह योजना देश के 34 राज्यों/संघ शासित क्षेत्रों में प्रभावी है।
  • वित्तीय वर्ष 2021-22 में प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना (PMMSY) हेतु 1000 करोड़ रुपये आवंटित किया गया है।
  • 25 जून 2021 तक इस योजना से प्रत्यक्ष तथा अप्रत्यक्ष रुप से मत्स्य क्षेत्र में लगभग 8 लाख रोजगार का सृजन किया जा चुका है।

PMMSY योजना का विश्लेषण

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना की व्यापक गतिविधियों से यह मत्स्य उत्पादन, जलीय कृषि की उत्पादकता, निर्यात को दोगुना करने, बड़े पैमाने पर रोजगार के अवसर सृजित करने, मछुआरों तथा मत्स्य किसानों की आय को दोगुना करने तथा मजबूत मत्स्यपालन प्रबंधन ढ़ाचे और किसान कल्याण की स्थापना करते हुए, महत्वाकांक्षी लक्ष्यों को हासिल करने में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन करते हुए मत्स्य किसानों को समृद्ध बनाएगी और मत्स्यपालन क्षेत्र को नई बुलंदियों तक पहुंचाएगी।

PMMSY योजना हेतु आवश्यक कागजात

  • मोबाइल नंबर
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक खता
  • जाति प्रमाण पत्र
  • मछली पालन कार्ड

PMMSY योजना हेतु ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया

  • ऑनलाइन आवेदन करने हेतु PMMSY योजना से जुड़े ऑफिशियल वेबसाइट https://www.dof.gov.in/ को ब्राउजर में ओपन करें,
  • होमपेज के मेन्यू सेक्शन में Scheme Tab में दिये गये मेन्यू पर क्लिक करके PMMSY का विकल्प Select करें,
  • यहाँ आपको बुकलेट ऑफ पीएम मत्स्य संपदा योजना के विकल्प पर क्लिक करें,
  • अब PMMSY योजना के लिए आवेदन फॉर्म खुल जाएगा इसमें मांगी गई वांछित सूचना को एंटर करें और सभी आवश्यक कागजात की सॉफ्ट कॉपी को अपलोड कर दें,
  • कागजात को अपलोड करने के बाद सबमिट बटन पर क्लिक करें,
  • इस प्रकार से PMMSY योजना में आपका फॉर्म भर सकते है
Manoj Verma
Manoj Vermahttps://hindimejane.net
Hi, This is Manoj Verma, Founder of hindimejane.net, Blogger, IT Professional, Website Designer, Website Developer

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

369FansLike
236FollowersFollow
109SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles